चोरी पकड़ी गयी

अब जबकि वीणा और राजू एक दुसरे से सम्बद्ध हो चुके थे, वेलम्मा अपने भविष्य में होने वाले दामाद के परिवार के बाकी सदस्यों से मिलने जाती है. लेकिन फिर से बड़े स्तनों वाली वेला एक समझौते वाली स्थिति में फँस जाती है और राजू का भ्रष्ट चाचा दीपरॉय इसका फायदा उठाते हुए स्वयं को आनन्दित करता है.

अब जबकि वीणा और राजू एक दुसरे से सम्बद्ध हो चुके थे, वेलम्मा अपने भविष्य में होने वाले दामाद के परिवार के बाकी सदस्यों से मिलने जाती है. लेकिन फिर से बड़े स्तनों वाली वेला एक समझौते वाली स्थिति में फँस जाती है और राजू का भ्रष्ट चाचा दीपरॉय इसका फायदा उठाते हुए स्वयं को आनन्दित करता है.